Jansansar
बिज़नेस

IVY Growth द्वारा आयोजित स्टार्टअप समिट में मिला अंदाजित 15 करोड़ रुपए का फंडिंग

शार्क टैंक फेम अमन गुप्ता और गज़ल अलघ ने शेयर किए अपने अनुभव

तीन दिन में 16 हजार से अधिक विजिटर्स पहुंचे समिट में

सूरत: सूरत स्थित अग्रणी स्टार्टअप इकोसिस्टम सक्षम करने वाले IVY Growth एसोसिएट्स की ओर से आयोजित स्टार्टअप समिट ट्वेंटी वन बाय सेवेंटी टू भव्य प्रतिसाद मिलने के साथ सफल रहा। समिट के अंतिम दिन दस हजार से और तीन दिनों में कुल 16000 से अधिक विजिटर्स समिट में पहुंचे। वहीं, तीन दिन में 25 स्टार्टअप ने पिचिंग किया। निवेशकों ने भी रुचि दिखाते हुए 15 करोड़ रुपए का फंडिंग अलग अलग स्टार्टअप में करने की घोषणा की। समिट में शार्क टैंक फेम और BoAT के को फाउंडर अमन गुप्ता और गज़ल अलघ भी मौजूद रही। ग़ज़ल ने अपनी कंपनी मामाअर्थ के सफर के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि मामाअर्थ शुरू में सिर्फ बच्चों के लिए प्रोडक्ट बनाती थी, उसके बाद माताओं के लिए और अब सभी के लिए प्रोडक्ट बना रही है। उनकी कंपनी में अब 3000 से अधिक कर्मचारी काम कर रहे हैं। गजल ने बताया कि हमे कोई कार्य हाथ में लेने के बाद पीछे नहीं हटना चाहिए। एक दिन सफलता जरूर मिलती है। साथ ही देश और समाज के लिए भी कुछ करना चाहिए इस पर जोर देते हुए कहा कि वे अपनी कमाई का कुछ हिस्सा पौधारोपण पर खर्च कर रही है। भविष्य में उनका लक्ष्य मामाअर्थ फॉरेस्ट बनाने का है। पिचिंग के लिए सिलेक्ट किए गए 25 स्टार्टअप में से 10 स्टार्टअप को शनिवार को बाकी के स्टार्टअप को रविवार को पिचिंग का अवसर मिला।इन स्टार्टअप में सूरत के चार स्टार्टअप भी शामिल हैं। वहीं, समिट में 80 जितने स्टार्टअप स्टॉल भी लगाए गए थे, जिसकी भी मुलाकातिओं ने मुलाकात ली।

इसके अलावा तीनों दिन स्टार्टअप संबंधित अलग अलग विषयों पर किनोट्स और पैनल डिस्कशन का भी आयोजन हुआ, जिसमें सार्थक आहूजा और अर्जुन वैद्य जैसे विशेषज्ञों ने स्टार्टअप पर विस्तृत जानकारी दी। इस आयोजन का उद्देश्य सूरत सहित गुजरात को वैश्विक स्टार्टअप इकोसिस्टम नक्शे पर रखने का था। 200+ स्टार्टअप संस्थापकों, 500+ निवेशकों और उद्योग के नेताओं सहित 10,000 से अधिक लोग स्टार्टअप समिट में शामिल हुए, जिसने इसे भारत में अपनी तरह का सबसे बड़ा स्टार्टअप समिट बना दिया। इस आयोजन ने नेटवर्किंग, सीखने और सहयोग के लिए एक मंच प्रदान किया। 50+ वीसी, 15+ एंजल नेटवर्क और 300+ एंजेल इन्वेस्टर्स की उपस्थिति के साथ इस कार्यक्रम ने स्टार्टअप्स और देश के शीर्ष के लिए अपने प्रस्तावों को प्रदर्शित करने तथा निवेशकों तक अपने विचारों पहुंचने एक अनूठा अवसर प्रदान किया।

IVY Growth एसोसिएट्स के सह- संस्थापक रचित पोद्दार ने कहा, “20 से अधिक राज्यों के 5,000 लोगों ने ट्वेंटीवन बाय सेवेंटी टू के पहले संस्करण में भाग लिया था। 35 पार्टनर स्टार्टअप्स में से 15-17 स्टार्टअप्स में निवेशकों ने रुचि दिखाई और टर्म शीट प्राप्त की थी। यह संस्करण उससे भी बड़ा और बेहतर रहा। प्रमुख वीसीएस जैसे एर्था वेंचर्स, वीकैट्स और ब्लूम वेंचर्स और सार्थक आहूजा, अर्जुन वैद्य, महावीर प्रताप शर्मा और 80 से अधिक उद्योग वक्ताओं का नेतृत्व मिला। जिन्होंने टेक्नोलोजी, बिजनेस और एंटरप्रेन्योरशिप के लेटेस्ट ट्रेंड पर अपनी कुशलता और अंतर्दृष्टि साझा किया।

समिट के मुख्य आकर्षण में से एक ट्रेलब्लेज़र माइन रहा। स्टार्टअप्स के लिए एक लाइव शार्क टैंक पिचिंग और धन इकठ्ठा वाला कार्यक्रम भी शामिल था। जिसमें चयनित स्टार्टअप्स को अपने विचारों को प्रतिष्ठित निवेशकों के एक पैनल के सामने रखने का अवसर दिया गया।

IVY Growth एसोसिएट्स भारत, यूके, यूएई, यूरोप और अफ्रीका के निवेशकों के साथ स्टार्टअप्स को जोड़कर सूरत को वैश्विक स्टार्टअप इकॉसिस्टम के मानचित्र पर लाने के मिशन पर है। यह उद्यमशीलता, अर्थव्यवस्था और रोजगार को बढ़ावा देने के लिए जो कल्पना की गई थी, उसे मूर्त रूप दे रहा है।

आयोजकों ने कहा हम सूरत को भारत का अगला स्टार्टअप हब बनाने के लक्ष्य की ओर आगे बढ़ रहे हैं। केवल डेढ़ साल में, IVY Growth ने अपने फंड से कुल $10 मिलियन (82 करोड़ रुपये) जुटाए और अपने नेटवर्क से सिंडिकेट फंड जिन कुछ स्टार्टअप्स में इसने निवेश किया है उनमें रेशमा मंडी, Zypp Electric और BlueSmart शामिल हैं।

IVY Growth टीयर II और III शहरों की अपार क्षमता में दृढ़ता से विश्वास करता है और इन क्षेत्रों में स्टार्टअप्स को पोषण और उद्यमिता को बढ़ावा देकर एक महत्वपूर्ण प्रभाव पैदा करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसका उद्देश्य इन शहरों में मौजूद अप्रयुक्त प्रतिभा और अवसरों को अनलॉक करना और उनके आर्थिक विकास और विकास में योगदान देना है। IVY Growth ने टियर II और III शहरों में स्थित 20 से अधिक स्टार्टअप्स में महत्वपूर्ण निवेश किया है। इनमें से कुछ स्टार्टअप्स में एविफी, ग्रोविट, हिडन फ्लेवर्स, वैल्यूएशनरी, बोधि शामिल हैं। Al, Adkrity, और Bebeburp “जिन स्टार्टअप्स में हमने निवेश किया है, वे विभिन्न प्रकार के क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करते हैं, जिनमें नवीकरणीय ऊर्जा, सुरक्षात्मक खेती, एडटेक, डायरेक्ट- टू- कंज्यूमर ब्रांड्स और अन्य शामिल हैं। हम किसी भी क्षेत्र से स्टार्टअप्स को फंडिंग के लिए खुले हैं। वर्तमान में हमारे फंडिंग संसाधनों में विविधता लाने के लिए एग्रीटेक, डी2सी, क्लीनटेक, सास और ईवी जैसे क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करना।

IVY Growth में महत्वाकांक्षी विकास योजनाएं हैं। इसने $15 मिलियन (123 करोड़ रुपये) के लक्ष्य आकार के साथ AIF CAT I – VC फंड स्थापित करने के लिए आवेदन किया है, जिसका उद्देश्य स्टार्टअप्स के लिए बड़ी धनराशि इकठ्ठी करने वाले दौर तक पहुंच प्रदान करना है। इसने हाल ही में एक प्रोप्रायटरी टेक प्लेटफॉर्म www.angeltech.in भी लॉन्च किया है, जो संभावित निवेशकों को होनहार स्टार्टअप डील दिखाने के लिए एक व्यापक केंद्र के रूप में कार्य करता है। अपनी विस्तार रणनीति के हिस्से के रूप में यह एक वैश्विक कॉरिडोर का निर्माण कर रहा है जो मध्य पूर्व और यूरोप पर विशेष ध्यान देने के साथ एंजेल निवेशकों और स्टार्टअप्स को जोड़ता है।

Related posts

जी-क्रैंक्ज़ ने गुजरात के अहमदाबाद में एक नया कार्यालय खोलकर अपने परिचालन का विस्तार किया

Jansansar News Desk

कलामंदिर ज्वैलर्स ने “सुवर्ण महोत्सव 2.0” लॉन्च किया

Jansansar News Desk

सोने और चांदी की कीमतों में समानता के लिए केंद्र सरकार की योजना

Jansansar News Desk

हीरे के उत्पादन सेक्टर में रोजगार के अवसर: देश-विदेश में मार्गदर्शन और कमाई के संभावनाएं

Jansansar News Desk

FIDSI ने प्रधान मंत्री को डायरेक्ट सेलिंग उद्योग को समर्थन देने के लिए दिया बजट सुझाव

Jansansar News Desk

कर प्रणाली में समझौते की जरूरत: भारतीय कर विवाद और उनका समाधान

Jansansar News Desk

Leave a Comment