Jansansar
बिज़नेस

आरएके सेरामिक्स: भारत में उच्चतम भरोसे का प्रतीक, अब बना अयोध्या राम मंदिर का हिस्सा – एक सतत विरासत

मुंबई, आरएके सेरामिक्स का भारत भर में प्रतिष्ठित परियोजनाओं के साथ साझेदारी करने का एक लंबा इतिहास रहा है, जिसमें काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर, यूपी पीडब्ल्यूडी परियोजना, लखनऊ, चेन्नई, बेंगलुरु और दिल्ली के हवाई अड्डे, कानपुर, तिरुपति और पटना जैसे प्रमुख आईआईटी, एम्स जैसे मेडिकल कॉलेज और बीएचयू, इसरो व एनटीपीसी समेत अन्य प्रमुख परियोजनाएं शामिल हैं। हालाँकि, राम मंदिर परियोजना इन सब में सर्वाधिक भव्य है। यह परियोजना भारतीय उपभोक्ताओं और आरएके सेरामिक्स के बीच संबंधों को मजबूती देते हुए उत्कृष्टता और निरंतर गुणवत्ता के प्रति कंपनी की प्रतिबद्धता दर्शाती है। आरएके सेरामिक्स के पास आंध्र प्रदेश के समालकोट में एक अत्याधुनिक विनिर्माण केंद्र है, जिसमें प्रतिदिन 30,000 वर्ग मीटर विट्रीफाइड टाइल्स और 3000 पीस सैनेटरी वेयर का उत्पादन होता है। गुजरात के मोरबी में कंपनी के दो संयुक्त उद्यम संयंत्र भी हैं, जिनका भारत के विकास की कहानी में अहम योगदान रहा है।

इस विषय में आरएके सेरामिक्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ, अनिल बीजावत ने कहा, “हर साल वैश्विक स्तर पर हजारों परियोजनाओं में हमारे उत्पादों का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन यह प्रतिष्ठित परियोजना उन सबसे अलग और विशेष है।भारत के लोगों के सांस्कृतिक, धार्मिक और सामाजिक जीवन से जुड़ी एक परियोजना से जुड़ना आरएके सेरामिक्स के  लिए बड़े गर्व की बात है।”

परियोजना के हिस्से के रूप में, राम मंदिर परिसर के विभिन्न प्रमुख क्षेत्रों में उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसमें तीर्थयात्री सुविधा केंद्र, फायर पोस्ट, तीर्थयात्री शौचालय, मुख्य रिसीविंग सबस्टेशन, स्टाफ लॉकर पुरुष/महिला, वेटिंग हॉल और यूपीएस रूम्स समेत अन्य शामिल हैं। ये वो स्थान हैं, जहाँ हर साल लाखों आगंतुक आएंगे। इस परियोजना में उत्पादों की सर्वोत्तम गुणवत्ता की माँग की गई थी और यहीं पर आरएके सेरामिक्स की जीत हुई।

बीजावत ने आगे कहा, “अयोध्या में राम जन्मभूमि पर राम मंदिर आधुनिक वास्तुशिल्प चमत्कार से कहीं अधिक है। यह दुनिया भर के सभी भारतीयों की आस्था का प्रतीक है। यह भारत की वास्तविक पहचान और धरती पर सबसे पुरानी सभ्यताओं में से एक के फिर से उभरने का प्रतीक है। हम विश्व स्तर पर प्रसिद्ध कई परियोजनाओं, जैसे कि वेम्बली स्टेडियम, अटलांटिस – द पाम, बुर्ज खलीफा, बुर्ज अल अरब, ग्रैंड हयात वाशिंगटन और हीथ्रो और दुबई जैसे प्रतिष्ठित हवाई अड्डों का हिस्सा रहे हैं। राम मंदिर परिसर का हिस्सा बनने के इस अवसर के साथ, हम अपने प्रदर्शन में एक और अमूल्य और अतुलनीय उपलब्धि जोड़ने में सफल रहे हैं। हम 22 जनवरी को मंदिर के भव्य उद्घाटन का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।”

आरएके सेरामिक्स वैश्विक स्तर पर एक सबसे बड़ा सिरेमिक ब्रांड है, जिसकी क्षमता सालाना 118 मिलियन वर्ग मीटर टाइल्स, 5.7 मिलियन सैनिटरीवेयर उत्पाद, 26 मिलियन चीनी मिट्टी के टेबलवेयर और 2.6 मिलियन नल का उत्पादन करने की है। इसके संयुक्त अरब अमीरात, भारत, बांग्लादेश और यूरोप में अत्याधुनिक विनिर्माण संयंत्र हैं। कंपनी निकट भविष्य में और भी कई रोमांचक परियोजनायें और अन्य महत्वपूर्ण सहयोग करने की तैयारी में है।

https://www.rakceramics.com/india/en-in/

Related posts

जी-क्रैंक्ज़ ने गुजरात के अहमदाबाद में एक नया कार्यालय खोलकर अपने परिचालन का विस्तार किया

Jansansar News Desk

कलामंदिर ज्वैलर्स ने “सुवर्ण महोत्सव 2.0” लॉन्च किया

Jansansar News Desk

सोने और चांदी की कीमतों में समानता के लिए केंद्र सरकार की योजना

Jansansar News Desk

हीरे के उत्पादन सेक्टर में रोजगार के अवसर: देश-विदेश में मार्गदर्शन और कमाई के संभावनाएं

Jansansar News Desk

FIDSI ने प्रधान मंत्री को डायरेक्ट सेलिंग उद्योग को समर्थन देने के लिए दिया बजट सुझाव

Jansansar News Desk

कर प्रणाली में समझौते की जरूरत: भारतीय कर विवाद और उनका समाधान

Jansansar News Desk

Leave a Comment