Jansansar
राष्ट्रिय समाचार

केंद्रीय कैबिनेट मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने नेमटेक का दौरा किया और भारत के तकनीकी शैक्षिक परिदृश्य को सशक्त बनाने में इसकी भूमिका की सराहना की

सूरत, गुरुवार, 11 जनवरी 2024: वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन 2024 में भाग लेने के लिए गुजरात की संक्षिप्त यात्रा पर आए हुए केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने आर्सेलरमित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (एएम/एनएस इंडिया) द्वारा एक शैक्षिक पहल द न्यू एज मेकर्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एनएएमटेक) का आज आईआईटी गांधीनगर, रिसर्च पार्क में दौरा किया।

भारत सरकार की राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 (एनईपी) के केंद्र में भारतीय स्नातकों की रोजगार क्षमता को बढ़ाने की दृढ़ महत्वाकांक्षा है, जिसमें तकनीकी कौशल और सॉफ्ट स्कील्स दोनों पर जोर दिया गया है। मंत्री प्रधान ने अपना विश्वास व्यक्त किया कि नेमटेक का दूरदर्शी दृष्टिकोण एनईपी के उद्देश्य के साथ सहजता से मेल खाता है, जो गहन, सहज शिक्षण पर केंद्रित एक अत्याधुनिक संस्थान स्थापित करने का प्रयास करता है।

मंत्री प्रधान ने विशाल नेमटेक परिसर की अपनी यात्रा के दौरान एक व्यापक दौरा किया, संस्थान की अत्याधुनिक प्रयोगशालाओं की मुलाकात की और छात्रों के साथ व्यावहारिक बातचीत की। छात्रों को संबोधित करते हुए, उन्होंने भारत को उज्जवल भविष्य की ओर ले जाने के लिए तकनीकी पेशेवरों की एक पीढ़ी को तैयार करने की संस्थान की प्रतिबद्धता की पुष्टि की।

नेमटेक के व्यापक सामाजिक आउटरीच कार्यक्रमों की सराहना करते हुए, मंत्री प्रधान ने देश भर में आईटीआई और डिप्लोमा कॉलेजों में पढ़ने वाले तकनीशियनों को उन्नत करने के लिए संस्थान के ठोस प्रयासों की सराहना की। तकनीशियनों को सशक्त बनाने के उद्देश्य से यह रणनीतिक दृष्टिकोण, भारत के तकनीकी वर्कफोर्स को मजबूत करने और समावेशी विकास को बढ़ावा देने के लिए दृढ़ समर्पण को दर्शाता है।

जैसा कि नेमटेक ने शिक्षा और कौशल विकास में उत्कृष्टता के लिए अपनी अटूट प्रतिबद्धता शुरू की है, मंत्री प्रधान ने उन पहलों के प्रति सरकार के दृढ़ समर्थन को दोहराया जो एक उज्जवल, अधिक सशक्त भारत का मार्ग प्रशस्त करता हैं।

केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास मंत्री श्री धर्मेंद्र प्रधान ने बताया कि, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रेरणा से, नेमटेक जैसे संस्थान राष्ट्र निर्माण पर गहरा प्रभाव डालेंगे। नेमटेक की आकांक्षाएं भारत के शैक्षिक परिदृश्य को बदलने वाले संस्थानों के बारे में प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण को प्रतिबिंबित करती हैं। कुशल पेशेवर की कैडर को बढ़ावा देकर, नेमटेक आने वाले वर्षों में भारत के विकास पथ का नेतृत्व करने और देश के भविष्य को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए तैयार है।”

नेमटेक बोर्ड सदस्य और एएमएनएस इंडिया और एसई एशिया के वीपी बिजनेस डेवलपमेंट श्री संजय शर्मा ने बताया कि, “हम अपनी यात्रा और हमारे दृष्टिकोण के प्रति अमूल्य प्रोत्साहन के साथ हमें सम्मानित करने के लिए मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं। उनकी अंतर्दृष्टि और समर्थन नवीन शिक्षा के माध्यम से भारत के युवाओं को सशक्त बनाने की हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करते हैं। हम सरकार से निरंतर समर्थन और सहयोग की उत्सुकता से प्रतीक्षा कर रहे हैं क्योंकि हम कुशल कार्यबल को बढ़ावा देने और देश के विकास में योगदान देने के अपने मिशन को साकार करने का प्रयास कर रहे हैं।”

Related posts

“पूरी दुनिया में सम्मान: पूर्व नासा अंतरिक्ष यात्री स्टीव ली स्मिथ ने भारत की अंतरिक्ष उपलब्धियों की सराहना की”

Jansansar News Desk

कारगिल विजय दिवस: सरसावा एयरफोर्स स्टेशन में 25वीं वर्षगांठ समारोह

Jansansar News Desk

Hathras Stampede News: मुख्य समाचार: ‘भोले बाबा’ की फरारी की गहराईयों से समझें

JD

दिल्ली में भारी बारिश पर आतिशी का बयान: “जल स्तर कम होने में समय लगेगा”

Jansansar News Desk

अयोध्या मंदिर Ayodhya Ram Mandir के PAC जवानों का कैंप: बारिश का सामना करते हुए”

JD

अवैध अदरक लहसुन पेस्ट निर्माण इकाई पर स्पेशल ऑपरेशन टीम द्वारा छापा मारा

JD

Leave a Comment