Jansansar
लाइफस्टाइल

श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज, गांधीधाम को “राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार-2023” से सम्मानित किया गया

देश में जानी-मानी एवं अग्रणी स्टील बार उत्पादक श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज लिमिटेड (SPSIL) को नेशनल स्टील टीएमटी बार्स के उत्पादन के लिए राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार-2023 से सम्मानित किया गया है।
देश में ऊर्जा संरक्षण में अनुकरणीय प्रयासों को मान्यता देने के लिए प्रति वर्ष राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस पर राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार प्रदान किया जाता है। श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज को गौण/द्वितीयक स्टील क्षेत्र में पुरस्कार के लिए चुना गया था और यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने वालों में एकमात्र स्टील उत्पादक कंपनी थी।

भारत की माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस के अवसर पर नई दिल्ली में श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज के प्रबंध निदेशक श्री देवेश खंडेलवाल को यह पुरस्कार प्रदान किया। इस पुरस्कार समारोह में केन्द्रीय विद्युत एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री आर.के. सिंह और विद्युत एवं भारी उद्योग राज्य मंत्री श्री कृष्ण पाल भी उपस्थित थे।

इस संदर्भ में श्री खंडेलवाल ने कहा कि, “माननीय राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू से राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार प्राप्त करके हम गौरवान्वित हैं। यह पुरस्कार पर्यावरण के अनुकूल टिकाऊ प्रथाओं को अपनाने और ऊर्जा संरक्षण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को मान्यता देता है। मैं इस मान्यता के लिए भारत सरकार का आभार व्यक्त करता हूं और श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज की पूरी टीम को इस उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए बधाई देता हूं।
राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण पुरस्कार केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय के तहत ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफिशिएंसी द्वारा प्रदान किए जाते हैं और ऊर्जा कार्यक्षमता और संरक्षण को बढ़ावा देते हैं। इस पुरस्कार के लिए 21 क्षेत्रों की पांच श्रेणियों में कुल 516 आवेदन प्राप्त हुए थे।

उल्लेखनीय है कि, श्रीयम पावर एंड स्टील इंडस्ट्रीज को हाल ही में अपने नेशनल स्टील टीएमटी बार के लिए गुजरात की पहली ग्रीन प्रो सर्टिफाइड(प्रमाणित) कंपनी के रूप में मान्यता दी गई थी। सीआईआई-ग्रीन प्रोडक्ट्स एंड सर्विसेज काउंसिल द्वारा प्रदान किया गया प्रमाणन अपने उत्पाद की गुणवत्ता में उच्चतम पर्यावरण मानकों को पूर्ण करने के लिए नेशनल टीएमटी के प्रति समर्पण की पुष्टि करता है।

Related posts

क्या आप अपने पूर्वजों की वंशावली का पता लगाना चाहते हैं? क्या आप जानते हैं कि आपके पूर्वजों ने अपनी वंशावली कहाँ लिखी है? क्या आप अपनी खुद की वंशावली लिखना चाहते हैं?

Jansansar News Desk

अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट का शाही विवाह: शुभकामनाएं और समाचार

Jansansar News Desk

पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा के लिए यशवी टूर्स एंड ट्रैवल्स को दो प्रतिष्ठित पुरस्कार

Jansansar News Desk

यतीश कुमार की बहुप्रशंसित पुस्तक ‘बोरसी भर आँच’ पर परिचर्चा का कार्यक्रम का आयोजन किया गया

Jansansar News Desk

सत्त्विक सर्टिफिकेशन्स ने नवोटेल, एकॉर ग्रुप की संपत्ति को दुनिया की पहली 100% सत्त्विक सर्टिफाइड शाकाहारी इमारत के रूप में प्रमाणित किया

Jansansar News Desk

नीलम सक्सेना चंद्रा – लेखन की दुनिया में एक और कदम

Jansansar News Desk

Leave a Comment