Jansansar
कामधेनु
धर्म

कार्यक्रम के जरिए हर माह करीब 150-200 से अधिक राजमिस्त्री को किया जाता है प्रशिक्षित

अकुशल से कुशल: गुजरात में राजमिस्त्री प्रशिक्षण कार्यक्रम के जरिए कुशल कामगार तैयार कर रही कामधेनू

सुरत: सुरक्षित निर्माण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भारत की सबसे बड़ी निर्माता और रिटेल में ब्रांडेड टीएमटी बार की विक्रेता कामधेनू लिमिटेड, गुजरात में हर महीने 2-3 राजमिस्त्री प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। इस कार्यक्रम के जरिए कंपनी हर माह 150 से अधिक राजमिस्त्रियों को प्रशिक्षण दे रही है। कंपनी 80 से 100 राजमिस्त्री के समूह के साथ नियमित बातचीत एवं प्रशिक्षण और गुणवत्ता कार्यक्रम सुनिश्चित करती है। इन कार्यक्रमों के माध्यम से कंपनी निर्माण क्षेत्र के बारे में नवीनतम जानकारी उन लोगों तक पहुंचाती है जो निर्माण और चिनाई के काम में शामिल हैं। कामधेनु की ओर से बैठक को प्रतिभागियों के लिए अधिक इंटरैक्टिव और रोमांचक बनाने के लिए एक विशेष रूप से तैयार की गई फिल्म भी दिखाई जाती है। जिसमे अच्छी किस्म के मैटेरियल का उपयोग करने पर बल दिया जाता है।

निर्माण में स्टील के उपयोग के बारे में बात करने के अलावा, राजमिस्त्री कंपनी के इनोवेटिव उत्पादों जैसे अगली पीढ़ी के इंटरलॉक स्टील ‘कामधेनु एनएक्सटी’ के बारे में भी विस्तृत जानकारी देते हैं। कार्यक्रम को राजमिस्त्री समुदाय से उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिल रही है।

कामधेनु लिमिटेड के निदेशक श्री सुनील अग्रवाल ने कहा, “कामधेनु ग्रुप ने साल 2009 से राजमिस्त्रियों को शिक्षित करने और उन्हें निर्माण और संरचनात्मक सुरक्षा के सभी महत्वपूर्ण पहलुओं पर जानकारी देने की पहल की थी। हमारा उद्देश्य देश के अकुशल कार्यबल का कौशल और उत्थान करना है। स्थानीय और घटिया सरिया का उपयोग करने से निर्माण की गुणवत्ता खराब होती है और बार-बार मरम्मत की आवश्यकता होती है। हमें खुशी है कि इस कार्यक्रम के माध्यम से हम निर्माण और मरम्मत कार्यों के लिए अपने स्वयं के कामधेनु एनएक्सटी जैसे सर्वोत्तम गुणवत्ता वाले उत्पादों का उपयोग करने के लाभों के बारे में श्रमिकों को शिक्षित करने में सक्षम हैं। इस तरह का आयोजन निर्माण समुदाय के सर्वोत्तम हित में है।”

उन्होंने कहा कि, “कंपनी का उद्देश्य हर मिस्त्री और बेलदार को शिक्षित कर उसे आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना है और हमें ख़ुशी है की हमारे इस कदम से हजारो लोगो की जीवन शैली में सुधार आया है।”

कंपनी गुजरात के अलावा भारत के विभिन्न राज्यों में हर महीने चरणबद्ध तरीके से ऐसी कार्यक्रम आयोजित करती है।

Related posts

कानपुर में गंगा के कायाकल्प: सरकार के प्रयास और परिवर्तनकारी पहलों का प्रमाण

Jansansar News Desk

सूरत में पौषवद एकादशी: जीवित केकड़े की पूजा और धार्मिक महत्व

Jansansar News Desk

उद्यम ही भैरव है: शिव के उपदेश से प्रेरित ध्यान और अध्ययन

Jansansar News Desk

भगवान जगन्नाथ Bhagwan Jagannath के विशेष वस्त्र: ओडिशा के राउतपाड़ा गांव के बुनकरों द्वारा बुने जाने वाले वस्त्र

JD

आषाढ़ी बीज पर भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा की तैयारी: इस्कॉन मंदिर, जहांगीरपुरा में रथ निर्माण कार्य शुरू

Jansansar News Desk

राजस्थानी समाज की ओर से उधना भिड़भंजन महादेव मंदिर में गणगौर कार्यक्रम का हुआ आयोजन

Jansansar News Desk

Leave a Comment