Jansansar
मनोरंजन

सिद्धार्थ कुमार तिवारी का इंटरव्यू ट्रांस्क्रिप्ट

कलर्स का ‘शिव शक्ति – तप त्याग तांडव’: निर्माता सिद्धार्थ कुमार तिवारी कहते हैं, “मेरा मानना है कि पौराणिक कथाओं को जीवंत करना मेरा धर्म है” 
कलर्स की नई महागाथा ‘शिव शक्ति – तप त्याग तांडव’ दो पूजनीय देवताओं – शिव और शक्ति के इर्द-गिर्द घूमती है। यह शो उनके कर्तव्य, त्याग और अलगाव की यात्रा को दर्शाता है, जो उन्हें तप, त्याग और तांडव की ओर ले जाती है। पहले पौराणिक शैली में एक शो को एक असाधारण कैनवास पर क्यूरेट करने के बाद, कलर्स और पौराणिक कथाओं का निर्माण करने के राजा सिद्धार्थ कुमार तिवारी फिर से विज़ुअली शानदार गाथा के लिए साथ आए हैं।
Excerpts below:
1. हमें शो के बारे में कुछ बताएं।
A. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव एक पौराणिक शो है, जो ब्रह्मांड की पहली प्रेम कहानी को दर्शाता है, यानि शिव और शक्ति की प्रेम कहानी। यह भगवान शिव और देवी शक्ति के कर्तव्य, त्याग और उनके अलग की यात्रा को दर्शाता है, जो उन्हें तप, त्याग और तांडव की ओर ले जाता है।
2. कृपया कलर्स के साथ दोबारा सहयोग करने पर अपने विचार साझा करें।
A. कलर्स आज मनोरंजन व्यवसाय में भारत का अग्रणी जीईसी है, जिसका श्रेय उनके शो की शानदार लाइन-अप को जाता है। यह विविध और मनोरंजक कॉन्टेंट के लिए शीर्ष गंतव्यों में से एक है। स्वास्तिक प्रोडक्शंस ने सफल शो के लिए कई मौकों पर चैनल के साथ सहयोग किया है और हम एक और पौराणिक शो के लिए बड़े पैमाने पर महाकाव्य गढ़ने को लेकर रोमांचित हैं। मुझे आशा है कि शिव शक्ति दर्शकों के मन में हमारे पूज्य देवताओं के प्रति श्रद्धा को और भी मजबूत कर देगा।
3. किस बात ने आपको शिव और शक्ति की प्रेम गाथा का निर्माण करने के लिए प्रेरित किया? दर्शकों को इस शो में सिद्धार्थ कुमार तिवारी के कौन से विशिष्ट तत्व देखने को मिलेंगे?
A. अपने बचपन से ही, मेरा भगवान शिव के प्रति गहरा लगाव रहा है। मेरे माता-पिता ने उनकी जो कहानियां बताईं, वे मुझे बहुत अच्छी लगती थी, और मैं उनका भक्त भी बना और उन्हें लेकर जिज्ञासु भी। जब मैंने हमारी पौराणिक कथाओं को पढ़ना और समझना शुरू किया, जिसे मैं अपना इतिहास मानता हूं, तो मैंने पाया कि शिव शक्ति की प्रेम कहानी जीवन के उद्देश्य के बारे में गहन शिक्षा देती है। यह ऐसी उल्लेखनीय प्रेम कहानी है जो साझा करने योग्य है। इसे तैयार करने के लिए, हमने बहुत मेहनत की है ताकि शो के हर पहलू को असाधारण रूप से मनोरम और दोषरहित बनाया जा सके। कर्तव्य के महत्व पर ज़ोर देकर और इसे एक आश्चर्यजनक और मधुर प्रस्तुति में बुनकर, हम एक ऐसा शो बनाने की इच्छा रखते हैं जो युवा पीढ़ी को मंत्रमुग्ध और प्रेरित करे। मेरा मानना है कि पौराणिक कथाओं को जीवंत करना मेरा धर्म है, और मैं इस पेशकश को बेहतरीन तरीके से प्रचारित करने के लिए कलर्स को धन्यवाद देता हूं।
4. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव अन्य शो से किस तरह से अलग है?
A. हमारे आस-पास की क्षणिक प्रकृति की हर चीज के बीच, यह शो एक कालातीत प्रेम कहानी प्रदर्शित करता है जो सभी भावनाओं से परे है। यह शो दिव्यता, भक्ति, बलिदान और कर्तव्य के विषयों में निहित सबसे भव्य प्रेम कहानी को सबसे अनूठे ढंग से दर्शाता है। शिव और शक्ति दोनों ही कारण हैं कि हम प्रेम के अमर होने पर विश्वास करते हैं। हमारा उद्देश्य यह प्रदर्शित करना है कि कैसे शिव शक्ति की प्रेम कहानी मार्गदर्शक प्रकाश के रूप में कार्य करते हुए, पथ प्रदर्शित करके हमें अर्थपूर्ण अस्तित्व की ओर ले जाती है।
5. शिव शक्ति का निर्माण करते समय आपको किन चुनौतियों का सामना करना पड़ा? क्या आपने कभी इसके व्यापक पैमाने को देखते हुए इसका निर्माण करने के अपने निर्णय पर पुन: विचार किया?
A. इस व्यापक स्तर की कहानियां सुनाने में हमेशा बहुत समय और समर्पण लगता है। यह बहुत चुनौतीपूर्ण है, यही मुझे रोमांचित करता है। मुझे यह समझने में समय लगा कि क्या हम शिव और शक्ति की कहानी के साथ न्याय कर पाएंगे या नहीं क्योंकि यह ऐसा कुछ नहीं है जिसके बारे में कोई व्यक्ति रात में सोचे और अगले दिन वह काम पूरा कर दिया जाए। एक असाधारण दुनिया बनाने के लिए हर अलग-अलग कहानी पढ़ने से लेकर अलग-अलग संदर्भों को समझने तक, शो के हर विवरण पर काम करने में, हमें एक साल लग गया।
6. क्या शिव शक्ति के निर्माण के दौरान कोई रोचक घटना घटी है? कृपया उस बारे में हमें बताएं।
A. हर दिन दिलचस्प होता है। अब सोचिए जब 1000 लोग सेट बनाने का काम कर रहे हों, वीएफएक्स पर 100 लोग काम कर रहे हों और प्रोडक्शन टीम, संगीत विभाग, कला विभाग और पोशाक विभाग में 200 लोग काम कर रहे हों। जब ये सभी लोग साथ मिलकर कोई कहानी सुनाएंगे, तो कल्पना करें कि हर दिन कितता मज़ेदार बीतेगा। मैं भी प्रारंभ में शो के किरदारों को स्थापति करने का निर्देश दे रहा हूं। यह बेहद चुनौतीपूर्ण अनुभव है। बहुत सारे मज़ेदार पल होते हैं, जहां हम इस बात पर बहस करते रहते हैं कि आज के समय में किसी चीज़ को कैसे बताया जाना चाहिए।
7. बहुत से लोग शिव और शक्ति की प्रेम गाथा जानते हैं और इसलिए इस कहानी में हैरान करने वाली कोई बात नहीं है। शो के निर्माता के रूप में, आपने यह बाधा कैसे दूर की? दर्शक क्या उम्मीद कर सकते हैं?
B. ऐसी महागाथाओं की सुंदरता यह है कि उन्हें बार—बार कई तरीकों से बताया और दोहराया जा सकता है। मुझे लगता है कि शिव शक्ति की जो कहानी हम दिखा रहे हैं, वह इस भव्य प्रेम कहानी की हमारी व्याख्या है, और जो मुख्य रूप से महत्वपूर्ण है, वह दर्शकों के लिए इसकी प्रासंगिकता है। इसलिए, मेरी बाधा यह है कि मैं इसकी व्याख्या कैसे कर रहा हूं, हम उस प्रेम कहानी के ज़रिये क्या कहने की कोशिश कर रहे हैं, और मेरे लिए इससे निपटना सबसे बड़ी चुनौती थी। मुझे इस कहानी का सार पाने में 4-5 महीने लगे। सबसे बड़ी बाधा कहानी की मूल पिच तैयार करना था। शिव शक्ति का मूल सिद्धांत यह है कि कर्तव्य सर्वोच्च प्रेम से भी बढ़कर है।
8.   किसी अभिनेता को एक देवता की भूमिका निभाने के लिए लेना बहुत बड़ी ज़िम्मेदारी है क्योंकि इसमें दर्शकों की धार्मिक भावनाएं शामिल होती हैं। ऐसी भूमिकाएं निभाने के लिए अभिनेताओं को चुनते समय आप किन बातों का ध्यान रखते हैं?
A.   यह बड़ी ज़िम्मेदारी है क्योंकि शिव का एक कैलेंडर आर्ट है, इसलिए मेरे लिए भगवान शिव की किसी अन्य रूप में कल्पना करना बहुत मुश्किल है। तो, भगवान शिव की मेरी अपनी कल्पना से मेल खाना सबसे महत्वपूर्ण बात थी। इस भूमिका के लिए अलग-अलग लोगों का ऑडिशन लेने में मुझे कई महीने लग गए, क्योंकि अगर वह व्यक्ति भगवान शिव की मेरी कल्पना से मेल नहीं खाता है, तो मेरे लिए यह विश्वास करना बहुत मुश्किल होगा कि वह व्यक्ति भगवान शिव हैं। अगर मैं ही उस पर विश्वास नहीं कर सकूंगा तो दर्शक इस किरदार से कैसे जुड़ पाएंगे? दूसरा चरण प्रदर्शन है। हम इन दैवीय किरदारों को रूप और चरित्र के संयोजन से बनाते हैं, इसलिए रूप और प्रदर्शन का अत्यधिक महत्व है।
9.    अनुभवी सेट डिज़ाइनर ओमंग कुमार बी. ने इस शो के लिए सेट डिज़ाइन किया है, और आपने अपने लगभग सभी शो के लिए उनके साथ सहयोग किया है। इस सहयोग की शुरुआत कैसे हुई?
A.    मैं किसी ऐसे व्यक्ति के साथ सहयोग करना चाहता था जो मेरे इस विज़न को साकार कर सके कि कैलाश और दक्ष की अलग-अलग दुनिया कैसी दिखती होंगी। चूंकि मैंने पहले भी ओमंग के साथ काम किया है, जो इस उद्योग के दिग्गज हैं, इसलिए हमारे लिए एक साथ काम करना और कुछ शानदार बनाना आसान था।
10.   शिव शक्ति के लिए कैलाश के ब्रह्मांड के निर्माण के पीछे क्या प्रेरणा थी?
A.   जब मैं ओमंग से मिला तो मैंने उनसे कहा कि हमें कैलाश को अलग तरह से डिज़ाइन करना होगा क्योंकि लोगों ने अब तक कैलाश को एक तय मापदंडों में ही देखा है और मुझे लगा कि हमें इसे पुन: रचने की ज़रूरत है। कैलाश का संदर्भ कैलाश पर्वत है जो इतने वर्षों से अस्तित्व में है। हमने कैलाश के मूल सार को जीवित रखते हुए इसे इस तरह से पुन: रचने की कोशिश की, जैसा लोगों ने पहले कभी नहीं देखा होगा।
11.  विज़ुअली शानदार सेट के अलावा, इस शो में कुछ बेहतरीन वीएफएक्स भी हैं। कृपया हमें बताएं कि आपने दर्शकों के लिए किस तरह के अनुभव की कल्पना की है।
A. ऐसी कहानियों को बताने में, वीएफएक्स सबसे महत्वपूर्ण चीजों में से एक है क्योंकि हम एक नई दुनिया बना रहे हैं और इस नई दुनिया को बनाने के लिए हमने इसे 3डी मॉडल में डिज़ाइन किया है क्योंकि ऐसी चीजें हमें आज देखने को नहीं मिलती हैं। विज़ुअल इफेक्ट हमारे किरदारों के चारों ओर एक अद्भुत दुनिया बनाकर उनका महत्व बढ़ाते हैं।
12.  यह सेट कितना भव्य है? कृपया हमें इसके क्षेत्र, जनबल और इसमें लगी लागत से संबंधित विशेषताओं के बारे में बताएं। क्या हम यह दावा कर सकते हैं कि यह भारतीय टेलीविज़न के इतिहास का सबसे महंगा शो है?
A. हां, मुझे लगता है कि हम ऐसा दावा कर सकते हैं। हमारे पास 100,000 वर्ग फुट से अधिक का क्षेत्र है क्योंकि अधिकांश शो को नियंत्रित वातावरण में इनडोर शूट किया जाता है और किया जाएगा।
13.   शिव शक्ति – तप त्याग तांडव में मुख्य सार क्या होगा?
A. भारतीय इतिहास (पौराणिक कथाओं) की ये कहानियां किसी उद्देश्य से कही जाती हैं। जब आप भगवान शिव के जीवन में घटित कोई कहानी देखते हैं, तो आप यह समझते हैं कि उस काल में क्या हुआ था और उस कहानी का सार क्या है। इसका मुख्य असर दर्शकों का मनोरंजन करना है। मेरा मानना है कि भारतीय पौराणिक कथाओं का सार दर्शकों को विचारशील बनाने के लिए लिखा गया था। इसलिए, मुख्य बात यह है कि आप गहन विचार और उद्देश्य के साथ ढेर सारा मनोरंजन देखेंगे। हम एक ऐसा आख्यान भी कर रहे हैं जिसे शिव मंत्र कहा जाएगा जहां शिव अपने विचारों के बारे में बात करेंगे और समझाएंगे कि उन्हें आज के युग में कैसे उपयोग किया जा सकता है।

Related posts

‘थलाइवा’ के नृत्य, माधुरी की थिरक और और भी कई अन्य मोमेंट्स! अनंत-राधिका की शादी कैसे हुई?

Jansansar News Desk

“व्हिसल पोडु (गीतात्मक) – सर्वकालिक महानतम थलपति विजय वीपी नई फिल्म ‘द ग्रेटेस्ट ऑफ ऑल टाइम’ से U1 एजीएस

Jansansar News Desk

“सुट्टेबाज हसीना (गीत) – वाइल्ड वाइल्ड पंजाब: मीका सिंह, वरुण शर्मा, सनी, जस्सी गिल, मनजोत, इशिता”

Jansansar News Desk

बैड न्यूज़’ के प्रमोशन के लिए अहमदाबाद पहुंचे विक्की कौशल और एम्मी विर्क

Jansansar News Desk

निया शर्मा ने ‘सुहागन चुड़ैल’ में ब्लैक-गोल्ड ब्राइडल लहंगा पहनकर महफिल लूट ली

Jansansar News Desk

निया शर्मा ने कलर्स के शो ‘लाफ्टर शेफ्स अनलिमिटेड एंटरटेनमेंट’ के सेट पर किचन में होने वाली गड़बड़ियों पर खुलकर बात की

Leave a Comment