Jansansar
राष्ट्रिय समाचार

Who is Advocate Partap Singh: हरियाणा के कुरुक्षेत्र से कांग्रेस के संभावित उम्मीदवार के बारे में जानिए

Left to Right:Salman Khurshid, Mallikarjun Kharge, Sr. Adv. Narender Hooda, Advocate Partap Singh (Possible Candidate Congress –   Kurukshetra Constituency)

कुरुक्षेत्र: हरियाणा के महत्वपूर्ण कुरुक्षेत्र निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस टिकट के लिए एडवोकेट प्रताप सिंह का नाम काफी चर्चा में है। अपनी कानूनी समझ और क्षेत्र से गहरे जुड़ाव के कारण, सिंह को इस ऐतिहासिक सीट पर पार्टी की जीत की दिशा में महत्वपूर्ण शख्सियत माना जा रहा है।

हरियाणा के दिल गांव दुबल कलायत, में जन्मे और पले-बढ़े प्रताप सिंह की कहानी, एक स्थानीय एडवोकेट से लोकसभा के संभावित सदस्य तक, संघर्ष, धैर्य, और जनसेवा की भावना की कहानी है। दो दशकों से अधिक समय तक कानूनी करियर में सक्रिय रहते हुए, सिंह ने कई उच्च-प्रोफाइल मामलों में अग्रणी भूमिका निभाई है, जिससे उन्हें निर्भीक और कुशल वकील के रूप में प्रतिष्ठा मिली है। उनका करियर, पंजाब और हरियाणा बार काउंसिल के चेयरमैन और भूपिंदर सिंह हुड्डा सरकार में अतिरिक्त महाधिवक्ता तक पहुंचता है, प्रभावशाली है। उनकी वकालत सिर्फ अदालत तक सीमित नहीं है, वह शिक्षा, अधिकारों, और किसान कल्याण पर केंद्रित सामाजिक और सामुदायिक कार्यों में गहराई से शामिल हैं।

सिंह की राजनीतिक प्रवृत्तियाँ नई नहीं हैं; वह कई वर्षों से कांग्रेस पार्टी के सक्रिय सदस्य रहे हैं। उनकी कानूनी और संविधानिक मामलों की समझ, उनके ग्रासरूट कनेक्शन के साथ मिलकर, पार्टी के लिए अमूल्य संपत्ति बनाती है। कांग्रेस हाईकमांड के करीबी सूत्रों का कहना है कि कुरुक्षेत्र निर्वाचन क्षेत्र से उन्हें मैदान में उतारने के बारे में मजबूत चर्चा है, उनकी लोकप्रियता और विपक्षी दल को चुनौती देने की जरूरत को देखते हुए।

हरियाणा के वकील समुदाय में उनकी प्रतिष्ठा और बार काउंसिल ऑफ इंडिया के सदस्य के रूप में उनकी भूमिका ने उन्हें एक विश्वसनीय उम्मीदवार के रूप में स्थापित किया है। उनकी उम्मीदवारी के आसपास कांग्रेस कैडर में उत्साह की लहर है, और वे कुरुक्षेत्र संसदीय चुनाव में एक प्रमुख दावेदार के रूप में उभर रहे हैं।

चुनाव नजदीक आते ही, सभी की नजरें एडवोकेट प्रताप सिंह और उनकी संभावित उम्मीदवारी पर हैं। यदि कांग्रेस हाईकमांड उन्हें मैदान में उतारने का निर्णय लेती है, तो यह न केवल उनकी राजनीतिक समझ की परीक्षा होगी, बल्कि कुरुक्षेत्र में महत्वपूर्ण परिवर्तन लाने का अवसर भी होगा। आने वाले समय में, प्रताप सिंह की उम्मीदवारी कुरुक्षेत्र और हरियाणा की राजनीति में एक नया अध्याय लिख सकती है, जिससे पूरे क्षेत्र का सामाजिक-आर्थिक विकास संभव हो सकेगा।

Related posts

नेपाल में विमान दुर्घटना: 18 लोगों की मौत, शोक में राजधानी काठमांडू

Jansansar News Desk

बांग्लादेश में हिंसा: सेना ने नुकसान का अवलोकन किया, छात्रों के विरोध में हुई हिंसा पर समीक्षा

Jansansar News Desk

नेपाल विमान दुर्घटना: एक अन्तर्दृष्टि

Jansansar News Desk

सौराष्ट्र में भारी बारिश से जनजीवन में अस्त-व्यस्तता: वायुसेना की मदद

Jansansar News Desk

जम्मू-कश्मीर: बढ़ते आतंकी हमलों के खिलाफ सुरक्षा बदलाव

Jansansar News Desk

जापान में KP.3 वायरस: कोरोना की नई लहर और अस्पतालों की भर्ती में तेजी से वृद्धि

Jansansar News Desk

Leave a Comment