Jansansar
Mallikarjun Kharge
राजनीती

मल्लिकार्जुन खरगे का बयान: राष्ट्रपति के भाषण में विज़न दस्तावेज़ की कमी केवल सरकारी दिशानिर्देशों का पुनरावलोकन होता है

Karnataka News: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे (Mallikarjun Kharge) ने बड़े अनुभव से कहा, “राष्ट्रपति का भाषण एक ऐसा विज़न दस्तावेज़ होना चाहिए जो हमें देश के भविष्य की दिशा में मार्गदर्शन दे। लेकिन अब तक हमें ऐसा कोई विज़न दस्तावेज़ नहीं देखने को मिला। राष्ट्रपति के भाषण में अब सिर्फ सरकारी दिशानिर्देशों की रचना होती है, जो केवल सरकार के द्वारा कही गई बातों का पुनरावलोकन होता है। आइये इस बार देखें कि क्या राष्ट्रपति के भाषण में कोई नई दिशा मिलती है या नहीं।

Related posts

भारत: 2075 तक दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में प्रगति

Jansansar News Desk

तिब्बती राष्ट्रपति का चीन के दबाव में तिब्बत के वर्तमान स्थिति पर विचार

Jansansar News Desk

महाराष्ट्र में कौशल विकास और उद्यमिता के लिए नई योजनाएं

Jansansar News Desk

कांग्रेस और सपा का यूपी उपचुनाव में साझा गठबंधन

Jansansar News Desk

हरियाणा में अग्निवीरों के लिए नई योजनाएँ घोषित: सीधी भर्ती में आरक्षण और छूट का लाभ

Jansansar News Desk

भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी के बयान पर स्पष्टीकरण: सबका साथ सबका विकास नारे और उनकी राजनीतिक परिप्रेक्ष्यात्मकता

Jansansar News Desk

Leave a Comment