Jansansar
मनोरंजन

कलर्स के कलाकारों ने इस महिला दिवस पर महिलाओं की अदम्य भावना का सम्मान किया

कलर्स के ‘मंगल लक्ष्मी’ में, मंगल की भूमिका निभा रहीं दीपिका सिंह कहती हैं, “हम अपनी मांओं, बहनों, पत्नियों और बेटियों को परिवार में और यहां तक ​​कि कार्यालय में भी हर किसी के जीवन को बेहतर और आसान बनाने के लिए कड़ी मेहनत करते हुए देखते हैं, जिनके लिए उन्हें पर्याप्त श्रेय भी नहीं दिया जाता है। उदाहरण के लिए, मेरा किरदार मंगल घर का काम संभालती है, परिवार की देखभाल करती है, अपने बच्चों को स्कूल छोड़ती है, और अपनी बहन लक्ष्मी की मदद करती है। इन सबके बावजूद उसे वह सम्मान नहीं मिल रहा है जिसकी वह हकदार हैं। इस मंगल का मिशन लोगों को उस प्यार को महत्व देने के लिए प्रोत्साहित करना है, जो दुनिया की कई मंगल अपने परिवारों को देती हैं। हमें उम्मीद है कि घर चलाना अब बिना श्रेय का काम नहीं रहेगा। आप सभी को महिला दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।”

 कलर्स के शो ‘डोरी’ में अग्नि की भूमिका निभा रहे अमर उपाध्याय कहते हैं, “मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि न केवल मैं बल्कि मेरी भूमिकाएं भी महिलाओं को महत्व देती हैं और उनका सम्मान करती हैं। बुनकर का काम करने वाले, गंगा ने डोरी को बचाया और एक पिता के रूप में अपनी दुनिया में उसका स्वागत किया। वह डोरी के लिए खड़ा हुआ और पिछड़ी सोच के खिलाफ उसकी लड़ाई में शामिल हुआ। अग्नि (गंगा प्रसाद) ने अपनी याददाश्त खो दी है, फिर भी उसमें महिलाओं की रक्षा करने और उनका समर्थन करने की स्वाभाविक प्रवृत्ति है। जहां तक मेरी बात है, मैं अपने परिवार की सभी महिलाओं – मेरी पत्नी, मां और बेटी की सराहना करता हूं और उन्हें प्रेरित करता हूं। मेरा मानना ​​है कि हमारे परिवार की महिलाएं हमारे घर की लक्ष्मी हैं। डोरी के सेट पर भी, मैं माही भानुशाली (डोरी), सुधा चंद्रन (कैलाशी देवी) और तोरल रासपुत्रा (मानसी) जैसी सभी महिला सह-कलाकारों को पाकर धन्य महसूस करता हूं, जो हमें किसी न किसी तरह से प्रेरित करती रहती हैं। सभी अद्भुत महिलाओं को महिला दिवस की शुभकामनाएं!”

 कलर्स के ‘मेरा बलम थानेदार’ में वीर की भूमिका निभा रहें, शगुन पांडे कहते हैं, “मेरे जीवन में मौजूद महिलाओं के साथ मेरे बहुत अच्छे और गहरे संबंध हैं, चाहे वह मेरी मां, बहन और महिला मित्र हों। उनके प्रभाव से न केवल मुझे पहचान मिली है बल्कि उन्होंने मेरे करियर में भी मेरा मार्गदर्शन किया है। ‘मेरा बलम थानेदार’ में, मैंने महिलाओं के अधिकारों को बनाए रखने के प्रति समर्पित एक किरदार निभाया है, जो मेरे दिल के करीब है। हम पुरुषों के लिए यह महत्वपूर्ण है कि हम हमारे जीवन को रोशन करने वाली महिलाओं के अमूल्य योगदान को स्वीकार करें और उन्हें अपनाएं। आइए समानता का अटल रूप से समर्थन करें, हमेशा महिलाओं की सुरक्षा करें और उन्हें सम्मान दें। वे हर तरह से हमारे अटूट समर्थन और सराहना की हकदार हैं।

कलर्स के ‘प्रचंड अशोक’ में राजकुमारी कौर्वकी की भूमिका निभा रहीं मल्लिका सिंह कहती हैं, “कौर्वकी का किरदार निभाते हुए, मैं उसकी गहराई और दृढ़ता से लगातार प्रेरित होती हूं। उनमें, मैं हर महिला में निहित दृढ़ संकल्प को देखती हूं। उनका सफर जीवन की जटिलताओं का शालीनता से सामना करने के साहस का प्रतीक है। चुनौतियों के बावजूद, कौर्वकी ने अपना सिर ऊंचा रखा है, जो नारीत्व की अटूट भावना का प्रतिनिधित्व करती है। इस महिला दिवस पर आइए हम सभी में मौजूद ताकत का जश्न मनाएं। हम सभी अपने अनूठे तरीकों से आगे बढ़ें, जीतें और चमकें। महिला दिवस की शुभकामनाए!”

 अधिक अपडेट के लिए कलर्स के साथ जुड़े रहें!

Related posts

फिल्म “वाइल्ड वाइल्ड पंजाब” का गाना “हुस्न ईरानी”: रंगीन और जोशीला संगीतीय अनुभव!

Jansansar News Desk

“खेल खेल में”: अपने पहले गाने “हौली हौली” के साथ बॉलीवुड में धमाल मचाने को तैयार हो जाइए!

Jansansar News Desk

श्रुति बिष्ट ने कलर्स के ‘मिश्री’ के लिए मोपेड बाइक चलाती नज़र आईं

Jansansar News Desk

‘सुहागन चुड़ैल’ की देबचंद्रिमा सिंघा रॉय ने कहा: एक शाही राजस्थानी दुल्हन की तरह सजने का अनुभव अद्भुत था

Jansansar News Desk

‘मेरा बलम थानेदार’ में बरखा बिष्ट ने रहस्यमयी महिला के रूप में एंट्री लेकर हंगामा बरपा दिया है

Jansansar News Desk

‘मिश्री’ स्टार मेघा चक्रवर्ती: “मुझे उम्मीद है कि वाणी का किरदार महिलाओं के लिए आदर्श बनेगा”

Jansansar News Desk

Leave a Comment