Jansansar
राष्ट्रिय समाचार

आर्सेलरमित्तल निप्पोन स्टील इंडियाने ‘बेटी पढ़ाओ’ छात्रवृत्ति पहल को आगे बढ़ाने के लिए प्रोटेईन के साथ साझेदारी को नवीकृत किया

– इस पहल की घोषणा ‘अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस’ के साथ सुसंगत है

सूरत – हजीरा, मार्च 8, 2024 : आर्सेलरमित्तल और निप्पॉन स्टील के संयुक्त उद्यम, आर्सेलरमित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (AM/NS India), ने भारत के डिजिटल पब्लिक इंफ्रास्ट्रक्चर में अग्रणी प्रोटेईन ईगॉव टेक्नोलॉजीज के साथ अपने सहयोग को नवीकृत करके शिक्षा में लैंगिक समानता को गति देने की अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत किया है। पूरे भारत में ‘बेटी पढ़ाओ’ (बेटियों को शिक्षित करें) छात्रवृत्ति पहल को आगे बढ़ाने के लिए मुंबई में प्रोटेईन के मुख्यालय में गुरुवार (7 मार्च) को एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए गए।

AM/NS India द्वारा मार्च-2022 में शुरू की गई ‘बेटी पढ़ाओ’ छात्रवृत्ति पहल ने अब तक छत्तीसगढ़, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और ओडिशा राज्यों की लगभग 650 वंचित युवा महिलाओं को सकारात्मक रूप से प्रभावित किया है।

इस समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर समारोह में AM/NS India के मानव संसाधन और प्रशासन के उप निदेशक श्री केजी कुबोटा और CSR के प्रमुख डॉ. विकास यादवेंदु सहित अनेक अग्रणी तथा प्रोटेईन ईगोव के अग्रणी श्री जयेश सुले, डब्ल्यूटीडी और सीओओ शामिल सहित अन्य उपस्थित रहे थे।

AM/NS India इस पहल के माध्यम से वंचित महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रयास करता है, जो इस वर्ष की अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की थीम ‘इंस्पायर इंक्लूजन’ के अनुरूप है। इस पहल के माध्यम से देशभर में छात्रों को योग्य और पात्रता मानदंडों के अधीन, तकनीकी, चिकित्सा और व्यावसायिक कार्यक्रमों, स्नातक शिक्षा, साथ ही राष्ट्रीय और राज्य खेलों के कोर्स सहित विविध शैक्षणिक लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए छात्रवृत्ति के लिए आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

केइजी कुबोटा, उप निदेशक – मानव संसाधन और प्रशासन विभाग, AM/NS India ने कहा कि, “हमारी ‘बेटी पढ़ाओ’ छात्रवृत्ति वंचित छात्राओंको उनकी व्यक्तिगत और व्यावसायिक आकांक्षाओं को प्राप्त करने में सहायता करके एक सार्थक अंतर लाती है, जिससे सर्वसमावेशी विकास को बढ़ावा मिलता है। उच्च उपलब्धि हांसिल करने वाली युवा महिलाओं के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा तक पहुंच बढ़ाने से हमारे देश के शिक्षा क्षेत्र में लैंगिक पूर्वाग्रह के उन्मूलन के उद्देश्य में बहुत योगदान मिलेगा। यह पहल ‘स्मार्टर स्टील्स, ब्राइटर फ्यूचर्स’ बनाने की हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करती है।”

छात्रवृत्ति प्रक्रिया की देखरेख के लिए सौंपी गई प्रोटेईन विद्यासारथी आवेदन के सत्यापन, छात्रवृत्ति पुरस्कार और फंड वितरण का प्रबंधन करेगी।

गोपा कुमार, चीफ बिज़नेस ऑफिसर, प्रोटेईन ईगोव टेक्नोलॉजीज लिमिटेडने कहा कि, “हम वंचित कन्याओं के लिए शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए समर्पित इस प्रभावशाली पहल में AM/NS India के साथ अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत करने के लिए बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। प्रोटेईन विद्यासारथी प्लेटफॉर्म बड़े कॉरपोरेट्स को अपने CSR खर्च को सही सामाजिक प्रभाव डालने के लिए सक्षम बनाता है। यह प्रोटेईन के मिशन के साथ सहजता से संरेखित होता है। सामाजिक और वित्तीय समावेशन के रूप में हम अरबों लोगों के निर्माण के पथ पर आगे बढ़ रहे हैं।”

 

Related posts

भारी बारिश से उत्पन्न हालात: मुंबई, पुणे, ठाणे में बाढ़ का सामना

Jansansar News Desk

नेपाल में विमान दुर्घटना: 18 लोगों की मौत, शोक में राजधानी काठमांडू

Jansansar News Desk

बांग्लादेश में हिंसा: सेना ने नुकसान का अवलोकन किया, छात्रों के विरोध में हुई हिंसा पर समीक्षा

Jansansar News Desk

नेपाल विमान दुर्घटना: एक अन्तर्दृष्टि

Jansansar News Desk

सौराष्ट्र में भारी बारिश से जनजीवन में अस्त-व्यस्तता: वायुसेना की मदद

Jansansar News Desk

जम्मू-कश्मीर: बढ़ते आतंकी हमलों के खिलाफ सुरक्षा बदलाव

Jansansar News Desk

Leave a Comment