Jansansar
राष्ट्रिय समाचार

AM/NS Indiaने “विश्व पर्यावरण दिवस” के उपलक्ष्य में सुवाली बीच पर सफाई अभियान आयोजित किया

सूरत – हजीरा, जून 10, 2024: दुनिया की दो सबसे बड़ी स्टील उत्पादक कंपनियां, आर्सेलरमित्तल और निप्पॉन स्टील के संयुक्त उद्यम आर्सेलरमित्तल निप्पॉन स्टील इंडिया (AM/NS India) ने “विश्व पर्यावरण दिवस” के अवसर पर सूरत के सुवाली बीच (समुद्रतट) पर सफाई अभियान आयोजित किया।
इस अभियान का उद्देश्य पर्यावरण जागरूकता और संरक्षण प्रयासों को प्रोत्साहन देना था। शनिवार, जून 08, 2024 को सुबह आयोजित हुए सफाई अभियान में AM/NS Indiaके कर्मचारियों, स्थानीय समुदाय के सदस्यों, आस-पास के गांवों के छात्रों और सरकारी अधिकारियों सहित लगभग 250 लोगों ने भाग लिया।
GPCB की क्षेत्रीय अधिकारी डॉ. जिज्ञासा ओझा ने इस पहल के महत्व पर प्रकाश डाला और विश्व पर्यावरण दिवस 2024 की थीम “ईकोसिस्टेम रिस्टोरेशन(पारिस्थितिकी तंत्र की बहाली)” – “भूमि बहाली, मरुस्थलीकरण और सूखे की रोकथाम” के बारे में बात की। उन्होंने प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण और पुनर्स्थापन में सहयोग की भावना के साथ सामूहिक तौर पर कदम उठाने की तत्काल आवश्यकता पर बल दिया।
सुवाली समुद्र तट पर सफाई अभियान में हितेश शेठ, हेड – OIG, स्टील कोम्प्लेक्ष – बी (एक्स्पान्शन), AM/NS India, हजीरा, अरबिंद शर्मा, हेड – इंफ्रास्ट्रक्चर, AM/NS India, हजीरा, शंकरा सुब्रमण्यम, हेड – एन्वारोमेन्ट, AM/NS India, हजीरा जैसे वरिष्ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया था।
यह पहल पर्यावरण संरक्षण और सामुदायिक सहभागिता के प्रति AM/NS Indiaकी प्रतिबद्धता का उदाहरण है। ऐसे प्रयासों के माध्यम से, कंपनी हरियाले और पर्यावरण के अनुकूल विश्व के लिए सकारात्मक परिवर्तन को प्रोत्साहन देना जारी रखती हैं।
सफाई अभियान के अलावा, यहां आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभागियों के लिए एक जुम्बा सेशन भी शामिल था।
AM/NS Indiaने ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ पर ‘वृक्षारोपण अभियान’ भी चलाया। इस अभियान में 600 से अधिक लोगों ने भाग लिया। संतोष मुंधड़ा, डिप्टी डिरेक्टर – टेक्नोलोजी, AM/NS India और डॉ. अरविंद बोधनकर, चीफ सस्टेनेबिलिटी ऑफिसर, AM/NS India के नेतृत्व में, आर्सेलरमित्तल निप्पोन स्टील इंडिया के हजीरा प्लान्ट के प्लेट मिल में मियावाकी पद्धति का उपयोग करके 1,500 पौधे लगाए गए। अन्य 100 पौधे जूनागाम गांव में लगाए गए, जबकि हजीरा प्लांट में अलग-अगल टीम द्वारा 50 पौधे लगाए गए थे।

Related posts

जम्मू-कश्मीर: बढ़ते आतंकी हमलों के खिलाफ सुरक्षा बदलाव

Jansansar News Desk

जापान में KP.3 वायरस: कोरोना की नई लहर और अस्पतालों की भर्ती में तेजी से वृद्धि

Jansansar News Desk

गोरखपुर-चंडीगढ़ एक्सप्रेस के डिब्बे पटरी से उतरे, कई यात्री घायल

Jansansar News Desk

किसानों का दिल्ली तक ट्रैक्टर मार्च एक नया आंदोलन का आगाज़

Jansansar News Desk

भारतीय श्रमिकों की मेहनत: दुनिया में सबसे अधिक कामकाजी घंटे

Jansansar News Desk

भारत में आयकर व्यक्तिगत और सामाजिक न्याय की दिशा में सरकारी कदमें

Jansansar News Desk

Leave a Comment