Jansansar
बिज़नेस

ग्रीनबीम अर्थ सोलर पार्क के पूरा होने की ओर: नवीकरणीय ऊर्जा में एक नया युग|

ग्रीनबीम अर्थ प्राइवेट लिमिटेड, 2021 में स्थापित एक सोलार ऊर्जा सेवा कंपनी, रावलवासिया ग्रुप के डिवीजनों में से एक है। अपने विविध पोर्टफोलियो के लिए प्रसिद्ध रावलवासिया ग्रुप ने रावलवासिया यार्न डाइंग प्राइवेट लिमिटेड के साथ अपनी यात्रा शुरू की संन 1985 में। तीन दशकों से अधिक के अनुभव के साथ, ग्रुप ने कोयला, सोलार और लोजिस्टिक्स क्षेत्रों को शामिल करने के लिए अपने कामकाज का सफलतापूर्वक बढ़ावा दिया है। यह योजनाबद्ध विकास कई उद्योगों में नए विचारों और स्थिरता के प्रति रावलवासिया ग्रुप की निष्ठा को दर्शाती है।

ग्रीनबीम अर्थ अपने अत्याधुनिक सोलार पार्क को लॉन्च करके नई ऊर्जा क्षेत्र को फिर से निर्धारि करने के लिए तैयार है, जिसका काम जल्द ही शुरू होने वाला है। यह विशेष कदम स्थायी ऊर्जा समाधानों को आगे बढ़ाने और विकास का समर्थन करने की कंपनी की संकल्प में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है।

अग्रणी नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाएँ

नए सोलार पार्क में जमीन पर लगे सोलार पैनलों के माध्यम से 24 मेगावाट की क्षमता है। यह परियोजना विश्वसनीय और पर्यावरण-अनुकूल बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करते हुए इंडस्ट्रियल और कॉर्पोरेट उपभोक्ताओं की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करती है। 16 मेगावाट की आपूर्ति करने वाला पहला चरण पहले ही पूरा हो चुका है, और शेष 8 मेगावाट शीघ्र ही चालू हो जाएगा। जिससे ग्रीनबीम अर्थ की स्थिति और भी मजबूत होगी।

नवीकरणीय ऊर्जा पदचिह्न का विस्तार

कपड़ा और कोयला उद्योगों में दशकों के अनुभव वाला रावलवासिया अब आधुनिक ऊर्जा में विस्तार कर रहा है। इसके डिवीजनों में से एक, ग्रीनबीम अर्थ ने पहले ही उच्च क्षमता वाली सोलार projects को प्रस्तुत करने में एक मजबूत ट्रैक रेकॉर्ड स्थापित किया है। ग्रीनबीम अर्थ ने कुल तीस मेगावाट की projects पूरी की हैं और 8 से अधिक स्थानों पर 100 मेगावाट से अधिक की पाइपलाइन में है। यह महत्वाकांक्षी विस्तार स्वच्छ और भरोसेमंद ऊर्जा की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कंपनी के योजनात्मक दृष्टिकोण को स्थापित करता है।

रणनीतिक दृष्टि और भविष्य के लक्ष्य

रावलवासिया ग्रुप अपनी नई ऊर्जा पहलों का विशेष रूप से विस्तार करेगा। ग्रीनबीम अर्थ के ज्ञान का फायदा उठाकर, समूह का लक्ष्य दिसंबर 2024-25 तक नए मध्य पश्चिमी और उत्तरी गुजरात इंडस्ट्रीज को लक्षित करते हुए, दक्षिण गुजरात से परे अपनी प्रोजेक्ट्स में विविधता लाना है। महत्वाकांक्षी रोडमैप में 2025-26 तक 250 मेगावाट सोलार ऊर्जा हासिल करना, 2026-27 तक 600 मेगावाट तक बढ़ाना और 2027-28 तक 1000 मेगावाट तक पहुंचना शामिल है। यह दूरदर्शी योजना अपनी नई ऊर्जा प्रोजेक्ट्स को बढ़ाने और टिकाऊ और नए ऊर्जा उपायों से इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट को बढ़ावा देने के लिए रावलवासिया ग्रुप के समर्पण को दिखाती है।

निष्कर्ष

रावलवासिया ग्रुप, अपने दूर तक फैले हुए अनुभव और विभिन्न व्यवसायों के साथ, innovation और sustainable development के प्रमाण के रूप में खड़ा है। टेक्सटाइल इंडस्ट्री में इसकी उत्पत्ति से लेकर कोयला, सोलार और लॉजिस्टिक्स में इसके विस्तार तक, उत्तमता और समर्थन के प्रति समूह की निष्ठा अटूट रही है। ग्रीनबीम अर्थ, इस प्रतिष्ठित समूह के हिस्से के रूप में, एक स्वच्छ, अधिक टिकाऊ भविष्य की दृष्टि को आगे बढ़ाना जारी रखता है। साथ में, रावलवासिया ग्रुप का सभी उद्योगों में समग्र दृष्टिकोण आर्थिक विकास को बढ़ावा देता है और पर्यावरण प्रबंधन (environmental management) में महत्वपूर्ण योगदान देता है।

Related posts

उर्वशी रौतेला, डिवाइन ब्रिक्स की ब्रांड एंबेसडर, ने 180% मुनाफा वृद्धि के उपलक्ष्य में टीम को 200 फ्लैट्स पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए; संस्थापक महेंदर सिंह उपस्थित रहे

Jansansar News Desk

वोल्गोग्राद में वैश्विक ऊर्जा पुरस्कार घोषणा समारोह का आयोजन

Jansansar News Desk

अहमदाबाद में तीन दिवसीय ज्वेलरी वर्ल्ड एक्ज़ीबिशन शुरू

Jansansar News Desk

केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2024 के लिए ‘The Future is Now’ थीम जारी किया

Jansansar News Desk

बॉबीस पॉलिटिकल इवेंट्स: मृणाल किशोर के द्वारा लाई गई पॉलिटिकल इवेंट मैनेजमेंट के क्षेत्र में क्रांति।

Ravi Jekar

तिरुपति टायर्स ₹20 से ₹250 की ओर? मिशेलिन से 350 करोड़ का मेगा ऑर्डर मिला!

Jansansar News Desk

Leave a Comment