Jansansar
धर्म

इंद्र के रूप में तरुण खन्ना

1. हमें शो शिव शक्ति – तप त्याग तांडव के बारे में बताएं?
A. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव एक पौराणिक शो है जो शिव और शक्ति की प्रेम कहानी को दर्शाता है, जो ब्रह्मांड की पहली प्रेम कहानी है। यह भगवान शिव और देवी पार्वती के कर्तव्य, त्याग और अलगाव के सफर को दर्शाता है जो उन्हें तप, त्याग और तांडव की ओर ले जाता है।

2. हमें शिव शक्ति – तप त्याग तांडव में अपनी भूमिका के बारे में बताएं?
A. मैं शिव शक्ति – तप त्याग तांडव में इंद्र की भूमिका निभाता नज़र आऊंगा। जैसा कि हम सभी जानते हैं, वह देवताओं के पूजनीय राजा और स्वर्ग के अधिपति हैं। उनके पास अपार शक्तियां हैं जिनसे वह मौसम को नियंत्रित करते हैं और बुरी शक्तियों से देवताओं और मानवता की रक्षा करते हैं। वह राक्षसों से लड़ने में अपने कौशल के लिए प्रसिद्ध हैं।

3. आपने इस किरदार को निभाना क्यों चुना?
A. मैंने इस शो में इंद्र की भूमिका इसलिए चुनी क्योंकि यह उनकी आशावादी खूबियों को उजागर करती है। भले ही, मुझे कई देवताओं की भूमिकाएं निभाने का मौका मिला है, मैंने कभी भी इंद्र की भूमिका नहीं निभाई है। इस भूमिका से मुझे अपनी कला के साथ प्रयोग करने और निर्माता सिद्धार्थ कुमार तिवारी के भव्य विज़न का हिस्सा बनने का मौका मिला।

4. आपने इंद्र की भूमिका के लिए कैसे तैयारी की?
A. इंद्र की भूमिका की तैयारी करने के लिए, मैंने उनके आख्यान पर व्यापक शोध किया और कई वर्कशॉप में भाग लिया। भगवान इंद्र को न्याय परायण माना जाता है और यही उन्हें इस गाथा में एक रक्षक बनाता है।

5. क्या आपको शिव शक्ति – तप त्याग तांडव में दक्ष की भूमिका निभाते समय किसी भी दिक्कत का सामना करना पड़ा?
A. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव में आत्मसंयमता का प्रभाव है, जो इंद्र की भूमिका को चुनौतीपूर्ण बनाती है। मुझे अपनी बॉडी लैंग्वेज, वॉइस मॉड्यूलेशन और उपस्थिति को लेकर ज्यादा सचेत रहना पड़ा। यह सब दोषरहित होना चाहिए। उनकी भूमिका सटीक रूप से निभाने के लिए, मुझे उनकी विविध भावनाओं और प्रेरणाओं की गहराई से समझना पड़ा ताकि संबंधित और दिव्य होने के बीच अच्छा संतुलन बनाया जा सके।

6. आपने कई लोकप्रिय शो में पौराणिक भूमिकाएं निभाई हैं। आप उन्हें किस कारण से चुनते हैं? यह अनुभव पिछले अनुभवों से कैसे अलग है?
A. मैं भाग्यशाली रहा हूं कि मुझे अपने अभिनय करियर के दौरान पौराणिक शोज़ में महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाने का मौका मिला है, और मैं पहली बार इंद्र देव की भूमिका में नज़र आऊंगा। ऐसा लगता है कि देवताओं के साथ मेरा बॉन्ड मेरे काम में प्रकट होता है।

7. भगवान शिव के जीवन पर आधारित पहले दिखाए गए शो से शिव शक्ति – तप त्याग तांडव कैसे अलग है?
A. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव ब्रह्मांड की पहली प्रेम कहानी की अभिव्यक्ति के रूप में सामने आया है, जो न्याय परायणता, भक्ति और परोपकार के विषयों पर बल देता है। यह प्रभावशाली उत्पादन मूल्य, आश्चर्यजनक ग्राफ़िक्स, विस्तृत सेट और मनोरम परिधानों से समर्थित है।

8. दर्शकों के लिए आपका क्या संदेश है?
A. शिव शक्ति – तप त्याग तांडव का उद्देश्य आपके आश्चर्य की भावना को जागृत करना और आपको वह आध्यात्मिक ज्ञान देना है जो आज भी प्रासंगिक है। आइए, शिव शक्ति की यात्रा को हमें हमारी क्षमता को खोजने और हमारी भीतर निवास करने वाली दिव्यता को अपनाने के लिए प्रेरित करने दें।

Related posts

कानपुर में गंगा के कायाकल्प: सरकार के प्रयास और परिवर्तनकारी पहलों का प्रमाण

Jansansar News Desk

सूरत में पौषवद एकादशी: जीवित केकड़े की पूजा और धार्मिक महत्व

Jansansar News Desk

उद्यम ही भैरव है: शिव के उपदेश से प्रेरित ध्यान और अध्ययन

Jansansar News Desk

भगवान जगन्नाथ Bhagwan Jagannath के विशेष वस्त्र: ओडिशा के राउतपाड़ा गांव के बुनकरों द्वारा बुने जाने वाले वस्त्र

JD

आषाढ़ी बीज पर भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा की तैयारी: इस्कॉन मंदिर, जहांगीरपुरा में रथ निर्माण कार्य शुरू

Jansansar News Desk

राजस्थानी समाज की ओर से उधना भिड़भंजन महादेव मंदिर में गणगौर कार्यक्रम का हुआ आयोजन

Jansansar News Desk

Leave a Comment